Bihar Board 10th Geography Objective: बिहार बोर्ड 10th भूगोल Chapter  5 शक्ति ऊर्जा

Bihar Board 10th Geography Objective: बिहार बोर्ड 10th भूगोल Chapter  5 शक्ति ऊर्जा

Bihar Board 10th Geography Objective
Bihar Board 10th Geography Objective

Q 1. वाष्प शक्ति का विकाश कहा हुआ?

(A) भारत

(B) अमेरीका

(C) जापान

(D) इंग्लैंड

उत्तर – B

Q 2. उपयोग स्तर के आधार पर शक्ति के कितने प्रकार होते हैं?

(A) 1

(B) 2

(C) 3

(D) 4

उत्तर – B

Q 3. उपयोगता के आधार पर शक्ति के कितने प्रकार होते हैं?

(A) 1

(B) 2

(C) 3

(D) 4

उत्तर – B

Q 4. स्रोत के स्थिति के आधार पर शक्ति के कितने प्रकार होते हैं?

(A) 1

(B) 2

(C) 3

(D) 4

उत्तर – B

Q 5. संरचत्मक गुणों के आधार पर शक्ति के कितने प्रकार होते हैं?

(A) 1

(B) 2

(C) 3

(D) 4

उत्तर – B

Q 6. भूगर्भिक दृष्टि से भारत के समस्त कोयला भण्डार को कितना भाग में बाटा गया है?

के आधार पर शक्ति के कितने प्रकार होते हैं?

(A) 1

(B) 2

(C) 3

(D) 4

उत्तर – B

Q 7. भारत के कौन से समूह सबसे ज्यादा कोयले का भंडार है?

(A) गोंडवाना समूह

(B) तरसीयरी समूह

(C) दोनो

(D) कोई नही

उत्तर – A

Q 8. गोंडवाना समूह में कोयले का कितना % भंडार है?

(A) 67

(B) 78

(C) 96

(D) 56

उत्तर – C

Q 9. गोंडवाना समूह से कितना % कोयले का उत्पादन होता है?

(A) 45

(B) 89

(C) 99

(D) 34

उत्तर – C

Q 10. गोडवाना समूह में कोयले का निर्माण कब हुआ था ?

(A) 10 करोड़ साल पहले

(B) 20 करोड़ साल पहले

(C) 30 करोड़ साल पहले

(D) 45 करोड़ साल पहले

उत्तर – B

Q 11 . गोडवाना कोयला क्षेत्र कौन से नदी घाटी में है?

(A) दामोदर घाटी

(B) सोन घाटी

(C) महानदी घाटी

(D) सभी

उत्तर – D

Q 12. कार्बन की मात्रा के आधार पर कोयले को कितने आधार पर बाटा गया है?

(A) 1

(B) 2

(C) 3

(D) 4

उत्तर – D

Q 13. कौन सा कोयला ऊंच कोटि का है?

(A) anthracite

(B) bituminus

(C) lignite

(D) peat

उत्तर – A

यह भी पढ़ें: बायोलॉजी के 10 महत्वपूर्ण ट्यूशन पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

Q 14. Anthracite कोयला में कार्बन कितना % है?

(A) 35

(B) 67

(C) 89

(D) 90

उत्तर – D

Q 15. कौन सा कोयला जलने पर धुवां नही देता?

(A) anthracite

(B) bituminus

(C) lignite

(D) peat

उत्तर – A

Q 16. Anthracite कोयला को और किस नाम से जानते है?

(A) कोकिंग कोयला

(B) जला कोयला

(C) दोनो

(D) कोई नही

उत्तर – A

Q 17. कौन से कोयला का इस्तेमाल धातु गलाने का काम आता है?

(A) anthracite

(B) bituminus

(C) lignite

(D) peat

उत्तर – A

Q 18. कौन सा कोयला भारत में अधिकतर पाया जाता है?

(A) anthracite

(B) bituminus

(C) lignite

(D) peat

उत्तर – B

Q 19. Bituminus कोयला में कितना % कार्बन पाया जाता है?

(A) 34-60

(B) 70-90

(C) 20-40

(D) कोई नही

उत्तर – B

Q 20. Lignite कोयला में कितना % कार्बन पाया जाता है?

(A) 30-70

(B) 70-90

(C) 20-40

(D) कोई नही

उत्तर – A

Q1.भारत में खनिज तेल के वितरण का वर्णन कीजिए।

उत्तर :

भारत में खनिज तेल का वितरण संबंधी विवरण निम्नलिखित हैं।

निगम वितरण: भारतीय तेल निगम लिमिटेड (Indian Oil Corporation Limited), हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (Hindustan Petroleum Corporation Limited), और भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (Bharat Petroleum Corporation Limited) जैसे सरकारी उपक्रम खनिज तेल के वितरण के लिए जिम्मेदार हैं। इन निगमों की शाखाओं द्वारा खनिज तेल उत्पादन से संबंधित सभी गतिविधियों के नियंत्रण और प्रबंधन का भी काम होता है।

खुदरा वितरण: खनिज तेल का खुदरा वितरण व्यापक है और भारत के हर कोने तक पहुंचता है। शहरों और शहरी क्षेत्रों में रिटेल ऑउटलेट और पेट्रोल पंप की जगह पर खनिज तेल की बिक्री की व्यवस्था होती है।

जहाज वितरण: भारत में खनिज तेल के जहाजों द्वारा भी वितरण की जाती है। इसमें, खनिज तेल को समुद्र में ले जाने और इसे पोत में भरने के बाद जहाज को दूसरी शहरों में पहुंचाने के लिए उपयोग किया जाता है।

4. जिस तेल को उत्पादित किया जाता है उसे पाइपलाइन के जरिए अन्य शहरों और राज्यों में भेजा जाता है। भारत में कुछ प्रमुख खनिज तेल पाइपलाइन वितरण के माध्यम से वितरित किए जाते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय वितरण: भारत खनिज तेल के लिए अंतर्राष्ट्रीय वितरण भी करता है। अंतर्राष्ट्रीय वितरण में भारतीय तेल निगम लिमिटेड (Indian Oil Corporation Limited), हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (Hindustan Petroleum Corporation Limited) और भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (Bharat Petroleum Corporation Limited) के साथ-साथ अन्य निजी कंपनियों भी शामिल हैं।

इन सभी वितरण के माध्यम से, भारत में खनिज तेल की वितरण सुनिश्चित किया जाता है और उपभोक्ताओं को उचित मूल्य पर समय पर उपलब्ध कराया जाता है।

Leave a comment

यहां से पढ़ें पूरी जानकारी